Breaking News

इंटरनेट के लिए टॉयलेट और खाने तक की कुर्बानी दे सकते है भारतीय

Posted on: 30 Oct 2017 07:03 by Ghamasan India
इंटरनेट के लिए टॉयलेट और खाने तक की कुर्बानी दे सकते है भारतीय

नई दिल्ली। आज इंटरनेट हमारी सबसे बड़ी जरुरत बन गया है। इंटरनेट जिन्दगी का वह हिस्सा बन गया है जिसके बिना इंसान खाली-खाली सा रहें लगता है। 47 सालो में इंटरनेट ने इंसानों पर अपनी धौस जमा ली है  इंटरनेट के बढ़ते प्रभाव से अब लोग जीवन की मूलभूत आवश्यकताओं का भी त्याग करने में लगे हैं।

देश में बढ़ रहे इंटरनेट प्रभाव को लेकर सामने आए एक सर्वे में ट्रेवल करने वाले भारतीयों पर नजर डाली गई है. इसमें सामने आया है कि 34 फीसदी भारतीय इंटरनेट के लिए टॉयलेट, खाना, शराब आदि की कुर्बानी दे सकते है। वहीं 29 फीसदी भारतीय 6 घंटे तक टॉयलेट, 16 फीसदी भारतीय नहाने की कुर्बानी दे सकते हैं।

सर्वे में सामने आया है कि अब ट्रेवलिंग के दौरान भारतीयों को खर्चे से ज्यादा मोबाइल नेटवर्क ना होने का डर लगता है। जबकि 14 फीसदी लोग इंटरनेट के लिए पूरे दिन कुछ भी खाए बिना रह सकते हैं। सर्वे में यह सामने आया है कि सोशल मीडिया पर अपडेट रहने के लिए 32 फीसदी लोग इंटरनेट चलाते हैं और 28 फीसदी लोग जगह के बारे में जानकारी जुटाने के लिए इंटरनेट का सहारा लेते हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com