आइये जानते है भारत कि कुछ डरावनी जगहों के बारे में

0
20

नई दिल्ली । संजय वन, दिल्लीवसंत कुंज और महरौली के नजदीक यह हरी पट्टी दिन में घनी हरियाली और पंछियों की चहचहाचट से गूंजती है, मगर यहां की रातें बच्चों की चीख-पुकार भूतों के पैरों की छाप और जानवरों के अजीबो-गरीब बर्ताव देखने मिलते  हैं।

Related image

राष्ट्रीय पुस्तकालय, कोलकाता यह विशालकाय इमारत 1757 में मीर जाफर को उसके विश्वासघात के लिए इनाम में दी गई थी । लेकिन यहां की फुसफुसाहटें और पैरों की छाप एक और पूर्व शिंदे की बताई जाती हैं. मरहूम ब्रिटिश गवर्नर लॉर्ड मैटकाफ की पत्नी की रहस्यमयी मौतों की कहानियां भी है।

Image result for राष्ट्रीय पुस्तकालय, कोलकाता

मुकेश हिल, मुंबई कोलाबा की यह उजाड़ कपड़ा मिल आग से स्वाहा हो चुकी है और कभी शूटिंग की पसंदीदा जगह हुआ करती थी आज कोई डायरेक्टर यहां रात को काम नहीं करता. ऐसा तभी से है जब एक टीवी शूट के दौरान एक अदाकारा अचानक आदमी की आवाज में बोलने लगी ।

Related image

हेबर हॉल, मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज का परिसर रात में अपनी पुरानी जर्जर दीवारों, चरमराते दरवाजों और छिटपुट रोशनी की वजह से खौफनाक नजारा पेश करता है. हेबर हॉल आवासीय हॉलों में से एक है. यह वह जगह है जहां एक छात्र ने मोहब्बत में ठुकराए जाने पर खुदकुशी कर ली थी ।

Image result for हेबर हॉल, मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज

अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, बंगलुरु यह शहर के भुतहा अड्डों में सबसे नया है, खासकर तब से जब पायलटों ने शिकायत की रनवे पर एक औरत दिखाई देती है. ग्राउंड स्टाफ ने भी उसे देखा था. मगर जो कोई उसके पास जाने की कोशिश करता है, स्वाभाविक तौर पर वह एकाएक गायब हो जाती है ।

Image result for अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, बंगलुरु यह शहर के भुतहा अड्डों

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here