आइये जानते है एकादशी के दिन चावल क्यों नहीं खाने चाहिए

0
13

धर्म डिस्क। एकादशी व्रत में सादा जीवन का पालन करना चाहिए। इस व्रत में चावल नहीं खाये  जाते है । आइए जानतें है क्यों।

शास्त्रों में एकादशी में चावल नहीं खाने की सलाह दी जाती है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन चावल खाने से मनुष्य रेंगने वाले जीव की योनि में जन्म ले लेता है। वहीं वैज्ञानिक तथ्य के अनुसार चावल में जल की मात्रा अधिक पायी जाती है। इसको खाने से शरीर में जल की मात्रा बढ़ जाती है जिससे मन विचलित और चंचल होता है।

दरअसल एकादशी के दिन शरीर में जल की मात्रा जितनी कम रहती है व्रत करने में मन उतना ही साफ होता है। महाभारत में भगवान व्यास ने भीम को निर्जला एकादशी का व्रत करने का सुझाव दिया था।

Related image

शास्त्रों में पेड़-पौधे में देवी-देवताओं का निवास स्थान माना जाता है। एकादशी के दिन किसी भी प्रकार की दातुन नहीं करना चाहिए।

एकादशी के दिन पान नहीं खाना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि पान खाने से मन में दूषित विचार आते हैं, इसलिए इस दिन पान नहीं खाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here