Sumitra Mahajan
इंदौर। इंदौर फिर से स्वच्छता के मामले में देश में नंबर वन बना। यह समाचार आनंद देने वाला, शहर के नागरिकों की मेहनत को सार्थकता प्रदान करने वाला है. हम गत वर्ष भी स्वच्छता के मामले में नंबर वन बनें थे. निसंदेह ऊंचाई पर पहुंचना कठिन कार्य है. लेकिन इस ऊंचाई पर बने रहना उससे भी बड़ी चुनौती थी. इंदौर ने यह कर दिखाया है. इस सफलता में इंदौर की संस्कृति, सबका सहयोग और सहभागिता है. प्रशासन ने तो अपने स्तर पर कड़ी मेहनत की है, लेकिन इंदौर के जागरूक नागरिकों ने जिस तरह से सहयोग किया है, यह देश में एक पहचान बना है. इंदौर के लोग इस शहर को अपना मानकर ही काम करते हैं. इस उपलब्धि के लिए शहर के सफाई कर्मचारियों की भी जितनी प्रशंसा की जाए, वह कम है।

NDIôJåA yrCgtl bu Roà=tih fUtu rb˜t =uN bu rb˜t v{:b ô:tl -----VUtuxtu r=luN XtfwUh

इंदौर आज देश के अन्य शहरों के लिए एक प्रेरणा बनकर उभरा है. हमें अपने शहर में स्वच्छता के मामले में इसी तरह से संकल्पित रहना है. साथ ही हमें पर्यावरण और जल संरक्षण के मामले में भी बड़े और सार्थक प्रयास करने हैं. आशा है कि जनभागीदारी से ये कार्य भी सफल ही होंगे। यह ख़ुशी और गौरव का क्षण है कि आज शहर का हर एक घर, हर गली, प्रत्येक कॉलोनी और बाज़ार सफाई के मामले में नंबर वन है।
Indore 1
मैं स्वच्छता में लगातार दूसरी बार, देश में नंबर वन आने के लिए इंदौर की माननीय महापौर श्रीमती मालिनी गौड़, पूर्व निगम कमिश्नर श्री मनीष सिंह, इंदौर के सभी जनप्रतिनिधिगण, जिला प्रशासन, इंदौर विकास प्राधिकरण, इंदौर की सामाजिक सांस्कृतिक एवं धार्मिक संस्थाओं के साथ-साथ हर एक सफाईकर्मी को, हर एक जागरूक इंदौरवासी को ह्रदय से बधाई देती हूँ। पूरे शहर का अभिनन्दन।

LEAVE A REPLY