• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   अभिनेता विनोद खन्ना का निधन
    •   भटके नौजवानों की होगी वापसी
    •    MCD में हार: AAP के पंजाब प्रभारी संजय सिंह ने दिया इस्तीफा
    •   ग्रेटर नोएडा: प्राइवेट युनिवर्सिटी की 21 वर्षीय छात्रा का अपहरण कर गाड़ी में किया गया रेप, FIR दर्ज
    •   सीरिया: दमिश्क एयरपोर्ट पर बड़ा धमाका होने की खबर।
    •   दिल्ली: अरविंद केजरीवाल ने आज सुबह 11.15 बजे CM आवास पर हार के लिए सभी विधायकों की बैठक बुलाई।
    •   दिल्ली: तिलक नगर सीट पर आम आदमी पार्टी उम्मीदवार की जीत।
    •   सीलमपुर से बीजेपी की उम्मीदवार शकीला बेगम जीतीं
    •    हार के बाद केजरीवाल के घर बैठक,सिसोदिया और गोपाल राय भी मौजूद,,EVM पर हो रही है चर्चा
    •   अगर बीजेपी जीतती है तो सीएम अरविंद केजरीवाल को अपना इस्तीफा देने के लिए तैयार रहना चाहिए: मनोज तिवारी,
    •   दिल्ली में दो सीटों पर नतीजे आए, खानपुर और मदनगीर में बीजेपी को जीत।
    •   उत्तरी दिल्ली MCD रुझान- भाजपा- 71,कांग्रेस-14,आप-16,अन्य-2
    •   उत्तरी दिल्ली में बीजेपी 72 सीट से आगे, आप 18, कांग्रेस 13
    •   दिल्ली नगरपालिका चुनाव में बीजेपी 165 सीटों पर आगे
    •   दक्षिणी दिल्ली के टैगोर गार्डन से बीजेपी प्रत्याशी आगे।
    •   पूर्वी दिल्ली की 63 सीटों में से 41 पर बीजेपी आगे चल रही है।
    •   उत्तरी दिल्ली: 104 सीटों में 70 पर बीजेपी आगे चल रही है।
    •   पूर्वी दिल्ली की झिलमिल सीट से आम आदमी पार्टी की निशा शर्मा आगे।
    •   एमसीडी की 270 सीटों के रुझान सामने आए, तीनों निगमों में बीजेपी को बहुमत।
    •   पूर्वी दिल्ली की सभी सीटों के रुझान सामने आए, बीजेपी को बहुमत। कांग्रेस-आप 12-12 सीटों पर आगे।

Movie Review: बिन ब्याही माँ की सोच बदलती है 'लाली की शादी में लड्डू दीवाना'

img
Movie Review: बिन ब्याही माँ की सोच बदलती है 'लाली की शादी में लड्डू दीवाना' Ghamansan Editor

यह युवाओं को रिश्‍तों की अहमियत समझने से रोकती है।

फिल्म:लाली कि शादी में लड्डू दीवाना
स्टारकास्ट: विवान शाह, अक्षरा हासन, गुरमीत चौधरी, सौरभ शुक्ला, संजय मिश्रा, कविता वर्मा, रवि किशन, दर्शन जरीवाला।
डायरेक्टर: मनीष हरीशंकर
प्रोड्यूसर: टीपी अग्रवाल, राहुल अग्रवाल
म्यूजिक: विपिन पटवा, रेवंत सिद्धार्थ, अर्को
जॉनर: फैमिली ड्रामा
रेटिंग: 5/2
मुंबई। आज की तारीख में प्यार को मुकम्मल अंजाम तक पहुंचाने की राहों में ढेरों चुनौतियां हैं। यह युवाओं को रिश्‍तों की अहमियत समझने से रोकती है। निर्देशक मनीष हरिशंकर ‘लाली की शादी में लड्डू दीवाना’ की मूलभूत कोशिश इस पहलू की बहुपरतीय पड़ताल करने की थी। इस पर गुजरे दशकों में आई फिल्‍मों की छाप दिखती है।

कहानी: फिल्म की कहानी लड्डू (विवान), लाली (अक्षरा) और वीर (गुरुमीत) के इर्दगिर्द घूमती है। लाली और लड्डू एक दूसरे से प्यार करते हैं।इस बीच दोनों की जिन्दगी पूरी तरह बदल जाती है। जब लड्डू को मालूम चलता है कि लाली प्रेग्नेंट हो गई है।लड्डू के ढेरों सपने हैं वो पहले उन्हें पूरा करना चाहता है और फिर बाद में शादी, लेकिन लाली शादी और बच्चा दोनों चाहती है।  फ़िलहाल दोनों ना चाहते हुए एक दूसरे से अलग हो जाते हैं और फिर शुरू होता है कहानी में ट्विस्ट, जब गुरुमीत, लाली के जिन्दगी में आता है और उसे प्यार करने लगता है और उससे शादी करने का फैसला करता है।फिल्म की कहानी यहीं से शुरू होती है। जो आपको हंसायेगा और रुलाएगा।

कमजोर कड़ी: खूबसूरत अभिनेत्री अक्षरा हसन की एक्टिंग थोड़ी फीकी नजर आई। उन्होंने कई जगह बेहतरीन काम किया लेकिन कुछ जगहों पर वो कमाल दिखाने में कामयाब नहीं हो पाई। विवान शाह ने लड्डू के किरदार में बिल्कुल फिट दिखे। वहीं गुरमीत चौधरी ने अपना बेस्ट देने की पूरी कोशिश की। सौरभ शुक्ला और संजय मिश्रा ने एक बार फिर साबित कर दिया कि उनसे बेहतर कोई नहीं है।

देखे या नहीं:फिल्म ने भारतीय शादी को एक नए तरीके से लोगों को पेश किया।जिसमें दिखाया गया कि शादी से पहले प्रेगनेंट होने वाली लड़की को कैसे लड़के के घर वालों ने उसे अपनाया और बेटी की तरह से रखा।सीरियस मुद्दे पर बनी इस  फिल्म में कॉमेडी का तड़का डाला गया वैसे फिल्म लोगों की सोच जरुर बदलने में कामयाब होगी।अगर आप फैमिली ड्रामा और कॉमेडी फ़िल्में देखना पसंद करते हैं तो ये फिल्म आपको जरुर पसंद आएगी।

Posts Carousel