• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   सुकमा हमले में शहीदों की संख्या बढ़कर 24 हुई
    •   फर्जी पासपोर्ट केस में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन दोषी करार
    •   इलाहाबाद : एक ही परिवार के चार लोगों की गला रेत कर हत्या
    •   जुलाई में डबल डेकर AC ट्रेन होगी शुरू, कम किराया ज्यादा लग्जरी होगी ट्रेन
    •   सेंसेक्स 290.54 अंकों की बढ़त के साथ 29655.84 पर बंद
    •   यूपी: 4 साल में 12 हजार 800 सब-इंस्पेक्टर करने होंगे नियुक्त
    •   गायिका आशा भोंसले ने किया सोनू निगम का समर्थन
    •   GST बिल बिहार विधानसभा में सर्वसम्मति से पारित
    •   लखनऊ: स्वास्थ्य मंत्री ने किया लोहिया अस्पताल का दौरा
    •   छत्तीसगढ़: सुकमा मुठभेड़ में सीआरपीएफ के 11 जवान शहीद
    •   मुंबईः वाडला में स्लम एरिया में गिरा हाई टेंशन तार, पांच लोग जले, घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।
    •   सूरत डायमंड असोसिएशन हेल्थ कमिटी ने एक से ज्यादा लड़की वाले 50 परिवारों को दिया 85,000 रुपये का बॉन्ड।
    •   यूपीः सीतापुर में दहेज में SUV की मांग न पूरी होने पर महिला को ज़िंदा जलाया, केस दर्ज किया गया, ससुर गिरफ्तार।
    •   J&K: पुंछ के लोरन में आयोजित किया गया किसान मेला, खेती की नई तकनीकों की जानकारी देना मकसद।
    •   झारखंड जन मुक्ति परिषद का एरिया कमांडर जिसके सिर पर दो लाख का इनाम था, कल गिरफ्तार किया गया।
    •   आज जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती प्रधानमंत्री मोदी से बात कर सकती हैं।
    •   IPL: आज मुंबई इंडियन्स और पुणे सुपरजायन्ट्स के बीच रात 8 बजे से मैच खेला जाएगा।
    •   दिल्ली MCD चुनाव: 12 बजे तक 25% हुआ मतदान
    •   यूपी के 'पहले डॉन' हरिशंकर तिवारी के छह लोग लूट के आरोप में गिरफ्तार
    •   पाकिस्तान: 25 सालों से पत्ती और लकड़ी खाकर जिंदा है यह शख्स

सावधान: गर्मियों में होते हैं ये इंफेक्शन, ऐसे करें बचाव

img
सावधान: गर्मियों में होते हैं ये इंफेक्शन, ऐसे करें बचाव Ghamansan Editor

दाद की समस्या गर्मियों में ज्यादातर देखने को मिलती है।

नई दिल्ली: जैसा की हम सभी जानतें है की गर्मियों में पसीने और खुजली के कारण हम कई तरह के इंफेक्शन का शिकार हो जाते हैं। लेकिन थोड़ी-सी सावधानी से हम बच सकते है. तो चलिए जानतें है समर में कौन-से इंफेक्शन होना आम बात है और इनसे कैसे बचा जा सकता है .
फंगल इन्फेक्शन
सबसे पहले तो आपको बता दे कि खाज यानि दाद की यह समस्या गर्मियों में ज्यादातर देखने को मिलती है। इसमें गोल-गोल टेढ़े-मेढ़े रैशेज जैसे नजर आते हैं, रिंग की तरह। इनमें खुजली होती है और ये एक इंसान से दूसरे में भी फैल सकते हैं।

यह करें: ऐंटी-फंगल क्रीम क्लोट्रिमाजोल (Clotrimazole) लगाएं। जरूरत पड़ने पर डॉक्टर की सलाह से ग्राइसोफुलविन (Griseofulvin) टैब्लेट ले सकते हैं। ये दोनों जेनरिक नेम हैं। लेकिन दवाई लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

कॉन्टैक्ट एलर्जी
आर्टिफिशल जूलरी, बेल्ट, जूते आदि के अलावा जिन कपड़ों से रंग निकलता है, उनसे कई बार एलर्जी हो जाती है जिसे कॉन्टैक्ट एलर्जी कहा जाता है। जहां ये चीजें टच होती हैं, वहां एक लाल लाइन बन जाती है और दाने बन जाते हैं। इनमें काफी जलन होती है। अगर जूलरी आदि को लगातार पहनते रहेंगे तो बीमारी बढ़ जाएगी और उस जगह से पानी निकलना (एक्जिमा) शुरू हो जाएगा।

यह करें: सबसे पहले उस चीज को हटा दें, जिससे एलर्जी है। उस पर हाइड्रोकोर्टिसोन लगाएं।

ऐथलेट फुट
जो लोग लगातार जूते पहने रहते हैं, उनके पैरों की उंगलियों के बीच की स्किन गल जाती है। समस्या बढ़ जाए तो इन्फेक्शन नाखून तक फैल जाता है और वह मोटा और भद्दा हो जाता है।

यह करें: जूते उतार कर रखें और पैरों को हवा लगाएं। जूते पहनना जरूरी हो तो पहले पैरों पर पाउडर डाल लें। क्लोट्रिमाजोल (Clotrimazole) क्रीम या पाउडर लगाएं।

Posts Carousel