• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   नोएडा के सेक्टर-93ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट में एसटीएफ की रेड में जब्त कम्युनिकेशन ऐंड रेकॉर्डिंग डिवाइस।
    •   RBI से लाइसेंस प्राप्त कोऑपरेटिव बैंकों को क्रेडिट और डेबिट कार्ड जारी करने की होगी छूट
    •   आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में एक नाव पलटने से 13 पानी में डूबे, 4 लापता: पुलिस
    •   छत्तसीगढ़: पुलिस ने सुकमा नक्सली हमले में शामिल नक्सलियों की जानकारी देने वाले को इनाम देने की घोषणा की।
    •   नोएडा में यूपीएसटीएफ ने आईपीएल में सट्टा लगाने वाले एक गैंग का पर्दाफाश किया। 7 लोग हिरासत में।
    •   अलगाववादियों से बातचीत पर केंद्र ने महबूबा के प्रस्ताव को ठुकराया
    •   गुरुग्राम: 8 साल के बच्चे से कुकर्म के प्रयास में 72 साल का बुजुर्ग अरेस्ट, केस दर्ज।
    •   हिमाचल प्रदेश: बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन ने मनाली से लेह तक जाने वाले सड़क मार्ग से हटाई बर्फ।
    •   पश्चिम बंगाल: बीएसएफ ने 429.55 ग्राम के सोने के चार बिस्किट्स के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया।
    •   इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में हॉस्टल खाली कराने को लेकर छात्रों का हंगामा। तोड़फोड़ कर बस में लगाई आग,
    •   जम्मू कश्मीर में जवानों ने एक आतंकी को जिंदा पकड़ा, बैंक लूटने आया था आतंकी
    •   चमचे हर जगह पहुंच जाते हैं, लेकिन कंधा देने नहीं: ऋषि कपूर
    •   लखनऊ के पेट्रोल पंपों पर रिमोट से चोरी हो रहा था पेट्रोल, छापे में हुआ खुलासा
    •   अमित शाह की निगाहें अब पश्चिम बंगाल पर...
    •   प्रेस रिव्यू: 'सीएम योगी की स्टाइल में बाल रखने का फरमान'
    •   डोनाल्ड ट्रंप बोले- नॉर्थ कोरिया से गहरा सकता है झगड़ा
    •   कुपवाड़ा के शहीद कैप्टन की मां बोली- मोदी ने नहीं लिया एक्शन तो मैं लूंगी बदला
    •   महिला पत्थरबाजों पर लगाम लगाएंगी 1000 महिला पुलिसकर्मी
    •   सीआरपीएफ ने बनाया प्लान, बस्तर में जल्द शुरू होगी नक्सलियों पर जवाबी कार्रवाई
    •   कल्पित वीरवल ने रचा इतिहास, JEE मेन-2017 में लाए परफेक्ट 100 फीसदी अंक

ट्रंप प्रशासन ने भारतीय मूल के इस अटॉर्नी को किया बर्खास्त

img
ट्रंप प्रशासन ने भारतीय मूल के इस अटॉर्नी को किया बर्खास्त Ghamansan Editor

ओबामा प्रशासन ने किया था नियुक्त

वॉशिंगटन: अमेरिका में ट्रम्प प्रशासन ने भारतीय मूल के अटॉर्नी प्रीत भरारा को बर्खास्त कर दिया है।आपको बता दें कि ट्रम्प प्रशासन 46 अटॉर्नी से इस्तीफा मांगा था, लेकिन भरारा ने पद छोड़ने से इनकार कर दिया था।

प्रीत भरारा ने ट्वीट कर अपनी बर्ख़ास्तगी का विरोध किया है, "मैंने इस्तीफ़ा नहीं दिया है. कुछ ही देर पहले मुझे हटाने के आदेश दिए गए हैं."

दरअसल जिन अटॉर्नी से इस्तीफा मांगा गया है, उन्हें बराक ओबामा प्रशासन मे नियुक्त किया गया था।

कौन हैं प्रीत भरारा?

प्रीत भरारा अमरीका में जाना पहचाना चेहरा हैं.

प्रीत भरारा SDNY (सदर्न डिस्ट्रिक्ट ऑफ न्यूयॉर्क) के अटॉर्नी थे। उनका अप्वाइंटमेंट ओबामा ने 2009 में किया था।

2013 में भारतीय राजनयिक देवयानी के ख़िलाफ़ मामला दर्ज करने के लिए वे सुर्खियों में थे।
प्रीत भरारा को वॉल स्ट्रीट बैंकर्स के ख़िलाफ़ और भ्रष्टाचार से जुड़े कई हाई प्रोफाइल मामलों में अहम भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है।

इन्होंने हेज फंड एसएसी कैपिटल एडवाइजर्स फर्म के ख़िलाफ़ 1.8 अरब डॉलर के जुर्माने का मुक़दमा जीता था. ये मामला अपने आप में रिकॉर्ड है।

Posts Carousel