• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   OBC के लिए मोदी सरकार का बड़ा फैसला, राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग की जगह बनेगा नया आयोग
    •   बस्तरः जगदलपुर इलाके में भगवती मिल में लगी आग। मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां, स्थिति नियंत्रण में।
    •   कर्नाटकः मांड्या की सारा को MBA के लिए नहीं मिला लोन। पीएम को लिखा पत्र तो मिली मदद।
    •   महाराष्ट्र: ठाणें में पुलिस से बचने के लिए गैरकानूनी शराब कारोबारियों ने कच्चा माल नदी में डाला,सैकड़ों मछलिया
    •   जम्मू-कश्मीरः बारामुला में सेना भर्ती में आए बड़ी संख्या में कश्मीरी।
    •   PM मोदी ने ट्वीट करके कहा है कि आतंकवाद से लड़ने में भारत यूके के साथ खड़ा है।
    •   प्रधानमंत्री मोदी ने लंदन आतंकी हमले पर दुख जताया है। उन्होंने कहा, 'पीड़ितों के परिवार के साथ हमारी दुआएं हैं
    •   आज सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई होगी।
    •   लंदन के लोग हमेशा की तरह बस और ट्रेनों में सफर करेंगे- टरीजा मे
    •   लंदन को कुछ नहीं होगा। ये महान शहर रोज़ की तरह फिर जागेगा- टरीजा मे
    •   हम लोग ऐसे हमलों से डरने वाले नहीं हैं: टरीजा मे
    •   लंदन अटैक: पुलिस ने अब तक केवल एक हमलावर के होने की बात कही।
    •   लंदन अटैक: पूरे शहर में अतिरिक्त सेना और पुलिसकर्मी (बिना हथियार के) तैनात किए गए।
    •   लंदन के लोग आतंकवाद से कभी नहीं दबेंगे- मेयर, लंदन
    •   लंदन अटैक: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए- 020 8629 5950 और 020 7632 3035
    •   लंदन अटैक: विदेश मंंत्री सुषमा स्वराज ने कहा, लंदन स्थित इंडियन हाई कमिशन सभी भारतीयों की मदद करेगा।
    •   प्रधानमंत्री टरीजा मे कुछ ही घंटों में आपातकाल मीटिंग करेंगी- मीडिया रिपोर्ट
    •   लंदन अटैक: हमलावर और एक पुलिस अधिकारी समेत चार लोगों की मौत। 20 लोग घायल- पुलिस
    •   सुनील ग्रोवर के बाद 'चंदू चायवाले' और 'नानी' ने भी कपिल शर्मा के शो का बायकॉट किया
    •   सबसे ज़्यादा टैक्स देने वाले एक्टर बने सलमान ख़ान, शाह रुख़, अमिताभ टॉप 10 की लिस्ट से गायब

OMG: 5 साल से गायब शिक्षाकर्मी को मिलता रहा वेतन

img
OMG: 5 साल से गायब शिक्षाकर्मी को मिलता रहा वेतन Ghamansan Editor

एक माह के वेतन से 10 हजार रुपए नगद भुगतान का आदेश दिया।

बिलासपुर। बिल्हा ब्लॉक के कर्मा-नगपुरा स्कूल में पदस्थ एक शिक्षाकर्मी पिछले 5 साल से गायब हैं। इसके बाद भी शिक्षा विभाग से हर माह उनकी सैलरी निकल रही थी।

शिक्षा विभाग की लापरवाही का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि स्कूल से लगातार अनुपस्थिति की जानकारी के बाद भी शिक्षाकर्मी का वेतन पिछले 5 साल से जारी हो रहा है। यह सब चलता भी रहता अगर नोटबंदी नहीं होती।

इतना ही नही केंद्र सरकार ने जैसे ही 500 और 1000 रुपए के नोट बंद किया वैसे ही नगद रुपयों का संकट खड़ा हो गया। ऐसे में राज्य शासन ने अपने कर्मचारियों को राहत देने के लिए एक माह के वेतन से 10 हजार रुपए नगद भुगतान का आदेश दिया। सभी स्कूलों के प्रधान पाठकों को उनके यहां पदस्थ शिक्षकों के लिए नगद 10 हजार रुपए भेजे गए।

ऐसे में नगपुरा स्कूल के शिक्षक धर्मेश राठौर के 10 हजार रुपए वापस आ गए। नोट संकट के दौर में पैसे वापस आना अधिकारियों को हजम नहीं हुआ। उन्होंने जांच की तो इस शिक्षाकर्मी के पांच साल से गायब होने की जानकारी मिली। आनन-फानन में शिक्षा विभाग ने संबंधित बैंक से संपर्क कर वेतन के रूप में डाली गई राशि वापस लेकर शासन के खाते में जमा करा दी है।

2011 से कोई अता-पता नहीं

धर्मेश कुमार राठौर की भर्ती 2010 में हुई थी। इसके बाद 20 जून 2011 से वे स्कूल से गायब हैं। इसके बाद भी शिक्षा विभाग की ओर से सैलरी जारी हो रही है। जबकि स्कूल से लगातार अनुपस्थिति आ रही है। जांच में पता चला कि शिक्षाकर्मी ग्राम किरारी सक्ती जिला जांजगीर-चांपा के रहने वाले हैं। उसके द्वारा सर्विस बुक में दिए गए पते पर नोटिस भेजकर उसका जवाब आने की प्रतीक्षा की जा रही हैं।



Posts Carousel