• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   भोजपुर एनकाउंटर मामला: सीबीआई के वकील ने कोर्ट से दोषी पुलिसकर्मियों के लिए मांगी फांसी की सजा।
    •   इंदौर पासपोर्ट ऑफिस का शुभारंभ दीप प्रज्वलन के साथ
    •   मुझे सूत्रों से पता चला है कि अगर बीजेपी सत्ता में आती है तो सभी तरह के आरक्षण खत्म कर देगी: मायावती,
    •   उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री उम्मीदवार का नाम घोषित न करना बीजेपी की चुनावी रणनीति है: अमित शाह
    •   अमित शाह ने इस बात से इनकार किया कि पीएम मोदी के हालिया भाषणों से सांप्रदायिकता को बढ़ावा मिला है।
    •   VVIP चॉपर स्कैम: आरोपी बी. सुब्रमण्यन और आरके नंदा ने CBI की स्पेशल कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की
    •   विंडस्क्रीन में खराबी के कारण पुणे से दिल्ली आने वाली स्पाइसजेट की फ्लाइट 8 घंटे लेट, 40 यात्री फंसे।
    •   आज 10.30 बजे कैबिनेट मीटिंग। आंध्र पैकेज को मिल सकती है मंजूरी।
    •   पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आज केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी रैली करेंगी।
    •   बिहार में पुलिस ने शराब की 72 बोतलें बरामद कीं और गया से 330 देशी शराब के पैकेट बरामद किए
    •   हैदराबाद की एक फैक्ट्री में आग लगी जिसमें झुलसकर 6 लोगों की मौत हो गई।
    •   डीएमके नेता स्टालिन भूख हड़ताल पर। विधानसभा में पलनिसामी के बहुमत साबित करने के खिलाफ करेंगे प्रदर्शन।
    •   भारतीय विश्वविद्यालयों में भय का माहौल होना लोकतंत्र के लिए हानिकारक है: अमर्त्य सेन
    •   जम्मू-कश्मीर: डोडा और उसके निकटवर्ती क्षेत्रों में बर्फबारी के साथ भारी बारिश हो रही है
    •   यूपी में बीएसपी सुप्रीमो मायावती आज 2 चुनावी जनसभाएं करेंगी।
    •   लंदन: चीनी दूतावास के बाहर बलूचों का विरोध-प्रदर्शन
    •   पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने म्यांमार का किया दौरा।
    •   यूपी: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज गोरखपुर और आजमगढ़ समेत चार जगहों पर रैलियां करेंगे।
    •   कुवैत में एक भारतीय नर्स को चाकू मारने की घटना पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रिपोर्ट मांगी है।
    •   यूपी चुनाव: आज सीएम अखिलेश यादव बहराइच, श्रावस्ती और गोंडा में रैली करेंगे।

चेतन भगत को पीछे छोड़ दिया सवि ने

img
चेतन भगत को पीछे छोड़ दिया सवि ने Ghamansan Editor

CA की पढ़ाई छोड़ बनी भारत की पहली सफल सेल्फ-पब्लिश्ड राइटर

इंदौर। हरियाणा में जन्मी उस लड़की ने कॉलेज की दहलीज पर पाँव रखते हुए यह सोचा भी नही होगा कि वह चंद दिनों में ही हिंदुस्तान के दिलो दिमाग पर छा जाएगी। जब उसने लिखना शुरू किया तो कागजों के कई पन्ने ख़राब हुए लेकिन वो नहीं रुकी, बढ़ती चली गयी, लिखती गयी और आज हिंदुस्तान के उन चंद लोगों में शुमार हो गयी जिनके फेसबुक पर 4.5 लाख से अधिक फॉलोअर्स है।

सवि शर्मा के बारे में कुछ दिन पहले ही नासिक में हिंदुस्तान के नामी लेखक आश्विन सांघी ने यह कहा था कि चेतन भगत के बाद की कमी को ना केवल तुमने पूरा किया बल्कि आज तुम उनके सामने खड़ी हो।

http://deshgujarat.com/wp-content/uploads/2016/07/Author-Savi-Sharma-with-her-debut-novel-Everyone-Has-A-Story-3.jpg

हिंदुस्तान के युवाओं को एक नई दिशा मिल गयी। कहानी, किताबें लिखते-लिखते कब सवि चार्टर्ड अकाउंटेंट बन गयी पता ही नही चला। यह लेखिका इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल में आई थी उनसे मुलाकात के दौरान सिर्फ एक बात सुनने में आई कि पब की ओर दौड़ते हुए युवा और राह से भटकते युवा के लिए नए रास्ते का नाम है सवि शर्मा। सवि ने साबित कर दिया की हिंदुस्तान का युवा अभी भी लिख सकता है पढ़ सकता है।

भारत की पहली स्वयं Self-published writer
सवि शर्मा सूरत में रहने वाली वह सामान्य लड़की है जिसने एक स्टोरीटेलर (कथाकार) बनने के लिए अपनी CA की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी। सवि ने खुद की एक प्रेरणादायक नावेल ‘Everyone has a story' पब्लिश की, जो की उनकी बेस्टसेलिंग नावेल थी। यही से उन्हें भारत की पहली सफल सेल्फ-पब्लिश्ड राइटर के रूप में पहचान मिली। इसके बाद उन्होंने वेस्टलैंड लिमिटेड के साथ और कहानियां लिखने के लिए हस्ताक्षर किये।

https://pbs.twimg.com/media/CpWH3LtWIAAKuB9.jpg:large

सवि है ‘Life & People’ की सहसंस्थापक
इसके अलावा सवि मोटिवेशनल मीडिया ब्लॉग ‘Life & People’ की सह-संस्थापक है जहां वह पाजिटिविटी, मेडिटेशन, लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन, आध्यात्मिकता और ऐसे कई विषयों के बारे में लिखती है। सवि को कैफे में बैठे लोगों को देखना बहुत अच्छा लगता है, जहां वह अक्सर नई कहानियां खोजा करती है। सवि की खुद की 100 इच्छाओं की सीक्रेट लिस्ट है जो वह अपने इस जीवन में पूरा कर लेना चाहती है।

मैं नहीं बनना चाहती थी लेखिका
सवि कहती है मैं कभी एक लेखिका नहीं थी और ना ही कभी बनना चाहती थी। मैं कभी एक अच्छी रीडर नहीं थी और मुझे यह भी नही पता था की मैं कभी हो पाऊँगी पर आज मैं इससे कहीं ज्यादा हूं। मैं हर सुबह मैं उठती हूं और जीने की वजह को ढूंढती हूं। अपने आसपास के लोगों को देखती हूं उन्हें ओब्सर्व करती हूं। जब समय बदलता है तो सबकुछ बदलता है कभी वह बदलाव अच्छा होता है कभी बुरा और कभी बहुत अच्छा।

सोशल मीडिया है बेस्ट प्लेटफार्म
सवि का कहना है कि अगर देखा जाए तो लोगों से जुड़ने के लिए सोशल मीडिया के बेहतर कोई प्लेटफार्म नही है। यहां आपको दुनिया के बेस्ट रीडर्स मिल सकते है। आज लोग अपना सबसे अधिक समय स्मार्टफोन और इन्टरनेट पर उपलब्ध किताबों की वेबसाइट पर जाकर बिताते है, आज सोशल मीडिया प्रत्येक व्यक्ति के पढने के विकल्पों को ढूंढने में मदद कर रहा है।

......रारा, नई दिल्ली

Save