• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   नोएडा के सेक्टर-93ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट में एसटीएफ की रेड में जब्त कम्युनिकेशन ऐंड रेकॉर्डिंग डिवाइस।
    •   RBI से लाइसेंस प्राप्त कोऑपरेटिव बैंकों को क्रेडिट और डेबिट कार्ड जारी करने की होगी छूट
    •   आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में एक नाव पलटने से 13 पानी में डूबे, 4 लापता: पुलिस
    •   छत्तसीगढ़: पुलिस ने सुकमा नक्सली हमले में शामिल नक्सलियों की जानकारी देने वाले को इनाम देने की घोषणा की।
    •   नोएडा में यूपीएसटीएफ ने आईपीएल में सट्टा लगाने वाले एक गैंग का पर्दाफाश किया। 7 लोग हिरासत में।
    •   अलगाववादियों से बातचीत पर केंद्र ने महबूबा के प्रस्ताव को ठुकराया
    •   गुरुग्राम: 8 साल के बच्चे से कुकर्म के प्रयास में 72 साल का बुजुर्ग अरेस्ट, केस दर्ज।
    •   हिमाचल प्रदेश: बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन ने मनाली से लेह तक जाने वाले सड़क मार्ग से हटाई बर्फ।
    •   पश्चिम बंगाल: बीएसएफ ने 429.55 ग्राम के सोने के चार बिस्किट्स के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया।
    •   इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में हॉस्टल खाली कराने को लेकर छात्रों का हंगामा। तोड़फोड़ कर बस में लगाई आग,
    •   जम्मू कश्मीर में जवानों ने एक आतंकी को जिंदा पकड़ा, बैंक लूटने आया था आतंकी
    •   चमचे हर जगह पहुंच जाते हैं, लेकिन कंधा देने नहीं: ऋषि कपूर
    •   लखनऊ के पेट्रोल पंपों पर रिमोट से चोरी हो रहा था पेट्रोल, छापे में हुआ खुलासा
    •   अमित शाह की निगाहें अब पश्चिम बंगाल पर...
    •   प्रेस रिव्यू: 'सीएम योगी की स्टाइल में बाल रखने का फरमान'
    •   डोनाल्ड ट्रंप बोले- नॉर्थ कोरिया से गहरा सकता है झगड़ा
    •   कुपवाड़ा के शहीद कैप्टन की मां बोली- मोदी ने नहीं लिया एक्शन तो मैं लूंगी बदला
    •   महिला पत्थरबाजों पर लगाम लगाएंगी 1000 महिला पुलिसकर्मी
    •   सीआरपीएफ ने बनाया प्लान, बस्तर में जल्द शुरू होगी नक्सलियों पर जवाबी कार्रवाई
    •   कल्पित वीरवल ने रचा इतिहास, JEE मेन-2017 में लाए परफेक्ट 100 फीसदी अंक

क्रूड 58 डॉलर तक जा सकता है, पेट्रोल-डीजल के बढ़ सकते हैं दाम

img
क्रूड 58 डॉलर तक जा सकता है, पेट्रोल-डीजल के बढ़ सकते हैं दाम Ghamansan Editor

हालांकि इंडियन ऑयल और भारत पेट्रोलियम को रिफाइनिंग मार्जिन बढ़ने से फायदा होगा

नई दिल्ली। ओपेक देशों की ओर से 30 नवंबर को क्रूड प्रोडक्शन कटौती पर सहमति बनने के बाद से ही क्रूड की कीमतों में तेजी देखने को मिल रही है। अब नॉन ओपेक देश भी क्रूड प्रोडक्शन में कटौती करने पर राजी हो गए हैं। इससे क्रूड कीमतों में आगे और तेजी देखने को मिलेगी। एक्सपर्ट्स मान रहे हैं कि क्रूड 58 डॉलर प्रति बैरल के स्तर तक पहुंच सकता है। इसका असर देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के रूप में दिखाई दे सकता है। एविएशन कंपनियां भी किराए में 5 फीसदी तक की बढ़ोतरी कर सकती हैं। हालांकि इंडियन ऑयल और भारत पेट्रोलियम को रिफाइनिंग मार्जिन बढ़ने से फायदा होगा।

कहां तक जा सकती हैं कू्ड की कीमतें?
एनर्जी एक्सपर्ट नरेंद्र तनेजा ने बताया कि ओपेक और नॉन ओपेक देशों में प्रोडक्शन कम करने पर सहमति जताने से क्रूड की कीमतें संभलेंगी। लेकिन, दूसरी ओर अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति ट्रंप ने ऐसा कैबिनेट बनाने का फैसला किया है, जिससे वहां क्रूड का प्रोडक्शन बढ़ाया जा सके। प्रोडक्शन बढ़ने पर क्रूड की सप्लाई भी बढ़ेगी। ऐसा होने पर क्रूड की कीमतें 60 डॉलर प्रति बैरल तक नहीं पहुंच पाएंगी, जैसा कि कुछ एक्सपर्ट अनुमान लगा रहे हैं। तनेजा के अनुसार, अागे क्रूड 58 यूएस डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकता है। हालांकि, अगले कुछ महीनों तक यह 46 से 58 यूएस डॉलर के बीच रहेगा। फिलहाल अभी कुछ दिनों तक क्रूड में तेजी आएगी।

क्या कहते हैं मार्केट एक्सपर्ट
मायस्टॉकरिसर्च के हेड लोकेश उप्पल ने बताया कि क्रूड की कीमतें बढ़ने से सीधे तौर पर वे कंपनियां प्रभावित होंगी, जो प्रोडक्शन के लिए इसपर निर्भर हैं। पेट्रो प्रोडक्ट्स की कीमतें जहां बढ़ेंगी, वहीं एविएशन कंपनियां भी किराए में कुछ बढ़ोतरी कर सकती हैं। दूसरी ओर, एक्‍सप्‍लोरेशन कंपनियों जैसेकि ओएनजीसी, केयर्न इंडिया और ऑयल इंडिया को इससे फायदा होगा।

एविएशन कंपनियां 5 फीसदी बढ़ा सकती हैं किराया
लोकेश उप्पल का कहना है कि क्रूड की कीमतों में और उछाल आने से जेट एयरवेज और स्पाइजेट जैसी कंपनियां 5 फीसदी तक किराया बढ़ा सकती हैं। क्रूड महंगा होने से इन्हें महंगा एटीएफ उपलब्ध होगा। एयरलाइंंस कंपनियों की कुल लागत में एटीएफ का हिस्सा 45-48 फीसदी तक होता है।

Posts Carousel