• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   नोएडा के सेक्टर-93ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट में एसटीएफ की रेड में जब्त कम्युनिकेशन ऐंड रेकॉर्डिंग डिवाइस।
    •   RBI से लाइसेंस प्राप्त कोऑपरेटिव बैंकों को क्रेडिट और डेबिट कार्ड जारी करने की होगी छूट
    •   आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में एक नाव पलटने से 13 पानी में डूबे, 4 लापता: पुलिस
    •   छत्तसीगढ़: पुलिस ने सुकमा नक्सली हमले में शामिल नक्सलियों की जानकारी देने वाले को इनाम देने की घोषणा की।
    •   नोएडा में यूपीएसटीएफ ने आईपीएल में सट्टा लगाने वाले एक गैंग का पर्दाफाश किया। 7 लोग हिरासत में।
    •   अलगाववादियों से बातचीत पर केंद्र ने महबूबा के प्रस्ताव को ठुकराया
    •   गुरुग्राम: 8 साल के बच्चे से कुकर्म के प्रयास में 72 साल का बुजुर्ग अरेस्ट, केस दर्ज।
    •   हिमाचल प्रदेश: बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन ने मनाली से लेह तक जाने वाले सड़क मार्ग से हटाई बर्फ।
    •   पश्चिम बंगाल: बीएसएफ ने 429.55 ग्राम के सोने के चार बिस्किट्स के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया।
    •   इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में हॉस्टल खाली कराने को लेकर छात्रों का हंगामा। तोड़फोड़ कर बस में लगाई आग,
    •   जम्मू कश्मीर में जवानों ने एक आतंकी को जिंदा पकड़ा, बैंक लूटने आया था आतंकी
    •   चमचे हर जगह पहुंच जाते हैं, लेकिन कंधा देने नहीं: ऋषि कपूर
    •   लखनऊ के पेट्रोल पंपों पर रिमोट से चोरी हो रहा था पेट्रोल, छापे में हुआ खुलासा
    •   अमित शाह की निगाहें अब पश्चिम बंगाल पर...
    •   प्रेस रिव्यू: 'सीएम योगी की स्टाइल में बाल रखने का फरमान'
    •   डोनाल्ड ट्रंप बोले- नॉर्थ कोरिया से गहरा सकता है झगड़ा
    •   कुपवाड़ा के शहीद कैप्टन की मां बोली- मोदी ने नहीं लिया एक्शन तो मैं लूंगी बदला
    •   महिला पत्थरबाजों पर लगाम लगाएंगी 1000 महिला पुलिसकर्मी
    •   सीआरपीएफ ने बनाया प्लान, बस्तर में जल्द शुरू होगी नक्सलियों पर जवाबी कार्रवाई
    •   कल्पित वीरवल ने रचा इतिहास, JEE मेन-2017 में लाए परफेक्ट 100 फीसदी अंक

SC ने माइक्रोसाफ्ट, गूगल, फेसबुक को भेजा नोटिस

img
SC ने माइक्रोसाफ्ट, गूगल, फेसबुक को भेजा नोटिस Ghamansan Editor

इन सभी को अगले साल नौ जनवरी तक नोटिस का जवाब देना है।

नई दिल्ली। सोशल नेटवर्किंग साइट पर साइबर क्राइम और यौन अपराध के वीडियो शेयर करने पर रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दायर याचिका पर आज गूगल, माइक्रोसाफ्ट, याहू और फेसबुक से जवाब तलब किए। न्यायमूर्ति मदन बी लोकूर और न्यायमूर्ति उदय यू ललित की पीठ ने इन कंपनियों को नोटिस जारी किये। इन सभी को अगले साल नौ जनवरी तक नोटिस का जवाब देना है।

गैर सरकारी संगठन प्रज्वला की ओर से वकील अपर्णा भट ने न्यायालय में कहा कि बलात्कार के वीडियो बनाने के बाद इन्हें सोशल नेटवर्किंग साइट पर पोस्ट किया जा रहा है। ऐसी स्थिति में इंटरनेट कंपनियों को इस तरह के साइबर अपराध पर अंकुश लगाने के लिये उचित कदम उठाने चाहिए।

केन्द्र की ओर से अतिरिक्त सालिसीटर जनरल मनिन्दर सिंह ने न्यायालय को इस संबंध में गृह मंत्रालय और केन्द्रीय जांच ब्यूरो द्वारा किए गये उपायों की जानकारी दी। जांच ब्यूरो ही साइबर अपराध के लिए नोडल एजेन्सी है। उन्होंने कहा कि यौन अपराधियों के नाम सार्वजनिक करने के सवाल पर भारत और विदेशों में बहस जारी है और इस संबंध में लिए जाने वाले निर्णय पर अमल किया जाएगा।

इस पर पीठ ने कहा कि यदि यौन अपराधियों के नाम सार्वजनिक किए जाने हैं तो ऐसा मामला दर्ज करने के बाद नहीं बल्कि सिर्फ इस अपराध के लिए दोषी ठहराए जाने के बाद ही होना चाहिए क्योंकि अगर यह व्यक्ति बाद में बरी हो जाता है तो भी नाम सार्वजनिक हो जाने पर उसकी छवि खराब हो जाएगी।

Posts Carousel