• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   नोएडा के सेक्टर-93ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट में एसटीएफ की रेड में जब्त कम्युनिकेशन ऐंड रेकॉर्डिंग डिवाइस।
    •   RBI से लाइसेंस प्राप्त कोऑपरेटिव बैंकों को क्रेडिट और डेबिट कार्ड जारी करने की होगी छूट
    •   आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में एक नाव पलटने से 13 पानी में डूबे, 4 लापता: पुलिस
    •   छत्तसीगढ़: पुलिस ने सुकमा नक्सली हमले में शामिल नक्सलियों की जानकारी देने वाले को इनाम देने की घोषणा की।
    •   नोएडा में यूपीएसटीएफ ने आईपीएल में सट्टा लगाने वाले एक गैंग का पर्दाफाश किया। 7 लोग हिरासत में।
    •   अलगाववादियों से बातचीत पर केंद्र ने महबूबा के प्रस्ताव को ठुकराया
    •   गुरुग्राम: 8 साल के बच्चे से कुकर्म के प्रयास में 72 साल का बुजुर्ग अरेस्ट, केस दर्ज।
    •   हिमाचल प्रदेश: बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन ने मनाली से लेह तक जाने वाले सड़क मार्ग से हटाई बर्फ।
    •   पश्चिम बंगाल: बीएसएफ ने 429.55 ग्राम के सोने के चार बिस्किट्स के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया।
    •   इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में हॉस्टल खाली कराने को लेकर छात्रों का हंगामा। तोड़फोड़ कर बस में लगाई आग,
    •   जम्मू कश्मीर में जवानों ने एक आतंकी को जिंदा पकड़ा, बैंक लूटने आया था आतंकी
    •   चमचे हर जगह पहुंच जाते हैं, लेकिन कंधा देने नहीं: ऋषि कपूर
    •   लखनऊ के पेट्रोल पंपों पर रिमोट से चोरी हो रहा था पेट्रोल, छापे में हुआ खुलासा
    •   अमित शाह की निगाहें अब पश्चिम बंगाल पर...
    •   प्रेस रिव्यू: 'सीएम योगी की स्टाइल में बाल रखने का फरमान'
    •   डोनाल्ड ट्रंप बोले- नॉर्थ कोरिया से गहरा सकता है झगड़ा
    •   कुपवाड़ा के शहीद कैप्टन की मां बोली- मोदी ने नहीं लिया एक्शन तो मैं लूंगी बदला
    •   महिला पत्थरबाजों पर लगाम लगाएंगी 1000 महिला पुलिसकर्मी
    •   सीआरपीएफ ने बनाया प्लान, बस्तर में जल्द शुरू होगी नक्सलियों पर जवाबी कार्रवाई
    •   कल्पित वीरवल ने रचा इतिहास, JEE मेन-2017 में लाए परफेक्ट 100 फीसदी अंक

मेक इन इंडिया का एक परफेक्ट एग्जांपल बने "Siddhartha Alidasani"

img
मेक इन इंडिया का एक परफेक्ट एग्जांपल बने "Siddhartha Alidasani" Ghamansan Editor

वे बीजापुर फार्मा और हर्बल क्लस्टर में दवाओं के उत्पादन के लिए निवेश कर रहे है

इंदौर : आज के समय में हर व्यक्ति ढेर सारा पैसा कमाना चाहता है। कोई भी मुड़ के पीछे नहीं देखना चाहता। ज़्यादातर लोग विदेश जाना चाहता है वहां का ग्रीन कार्ड पाना चाहते हैं, लोगो को पैसों की इस चाह ने देश प्रेम से बहुत दूर कर रखा है। इन सभी लोगो के बीच कुछ लोग ऐसे भी है जीनके अंदर अपने देश के लिए बहुत प्यार है, वे लोग सबसे पहले देश के बारे में साथ ही देश की तरक्की के बारे में सोचते है। आज हम एक ऐसे व्यक्ति के बार में आपको बताने जा रहें है, जिनके लिए अपना देश सबसे पहले है।

सिद्धार्थ अलीदासनि एक ऐसा व्यक्ति का नाम है जिन्हें हम मेक इन इंडिया का एक सहीं उदाहरण कह सकते है। वे बीजापुर फार्मा और हर्बल क्लस्टर में दवाओं के उत्पादन के लिए निवेश कर रहे है, यह जगहे इंदौर से करीब 20 Km की दुरी पर स्थित है।

यह एक ऐसे व्यक्ति है जिन्हें हम रिवर्स माइग्रेशन का भी उदाहरण कह सकते है। सिद्धार्थ के पिता 27 साल पहले होंगकोंग में शिफ्ट हो गए। वे होंगकोंग के एक प्रमुख व्यापारी है, पर अब वे चाहते है की उनकी अगली पीढ़ी भारत वापस आए और अपना बिज़नस भारत में स्थापित करें। सिद्धार्थ अलीदासनि एक भी पैसा बैंक से लोन लिए बगेर 100 परसेंट FDI में इन्वेस्टमेंट कर रहें है।

Posts Carousel