• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   गुजरात लायंस के कप्तान सुरेश रैना ने IPL मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला
    •   उत्तराखंड के नागथात में एक कार दुर्घटनाग्रस्त। हादसे में पांच लोगों की मौत।
    •   विराट कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स को पुणे सुपरजायंट ने हराया। इस हार के साथ ही आईपीएल से बाहर हुई रॉयल चैलेंजर
    •   वाराणसी के पेट्रोल पंपों पर विधिक माप विज्ञान विभाग के अधिकारियों ने सक्रियता दिखाते हुए छापेमारी की।
    •   मुजफ्फरनगर: शादी समारोह में हर्ष फायरिंग। गोली लगने से 12 वर्षीय किशोर की मौत।
    •   2018 तक करीब 15 लाख वीवीपीएटी (वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीनें तैयार हो जाएंगी: मुख्य चुनाव आयुक्त
    •   लखनऊ: पेट्रोल पंप से तेल चोरी के मास्टरमाइंड राजेन्द्र को आठ दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया।
    •   गोरखपुर प्रेस क्लब में सीएम योगी आदित्यनाथ ने मीडिया की तारीफ की।
    •   आईआईटी के बाद दिल्ली युनिवर्सिटी ने छात्राओं से 'ठीक कपड़े' पहनने को कहा
    •   AIADMK चुनाव चिह्न मामले में दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच टीटीवी दिनकरन को पूछताछ के लिए वापस दिल्ली लाई।
    •   लखनऊ पुलिस को मिली पेट्रोल पंप से तेल चोरी के मास्टरमाइंड राजेन्द्र की 8 दिन की कस्टडी रिमांड
    •   मप्र में 10-12वी बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट 12 मई को होंगे घोषित।
    •   मुंबई के पास AIS महिला ऑफिसर को बंधक बनाकर बदसलूकी की गई
    •   मधुर भंडारकर पर रेप का आरोप लगाने वाली एक्ट्रेस को 3 साल की सजा, मधुर के मर्डर की थी प्लानिंग
    •   बिहार में 'बाहुबली 2 का जबरदस्‍त क्रेज, रविवार तक सिनेमाघर हाउसफुल
    •   UP: पेट्रोप पंप चिप कांड में STF ने 23 को पकड़ा, 7 पंपों को किया सील
    •   लिखा हुआ या बदरंग नोट नहीं लिया तो बैंक कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई
    •   AAP के मोहल्ला क्लीनिक में पानी का कनेक्शन तक नहीं, डॉक्टर-मरीज परेशान
    •   CM बनने के बाद योगी का आज गोरखपुर में दूसरा दौरा, 10 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स का करेंगे शिलान्यास
    •   दिल्ली एयरपोर्ट पर 'ISI एजेंट' का अजीबोगरीब सरेंडर, काउंटर पर आकर किया खुलासा

ओडिशा में जापानी बुखार से 75 की मौत, छत्तीसगढ़ में भी फैला

img
ओडिशा में जापानी बुखार से 75 की मौत, छत्तीसगढ़ में भी फैला Ghamansan Editor

वैक्सीन का असर वैक्सीनेशन के सात दिनों के बाद होता है

छत्तीसगढ़: ओडिशा के मलकानगिरि में जापानी बुखार का प्रकोप खतरनाक स्तर तक पहुंच चुका है। अब तक इस बीमारी से करीब 75 बच्चों की मौत हो चुकी है, 130 से ज्यादा बच्चे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। जिले के दो ब्लॉक से बढ़कर यह जानलेवा बुखार 7 ब्लाकों में दस्तक दे चुका है।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक मलकानगिरि जिले में करीब 17 हजार बच्चे हैं। ये बीमारी सबसे जल्दी नवजात से 5 साल तक के बच्चों को प्रभावित करती है। प्रशासन-डॉक्टरों के लिए अब सबसे बड़ी चुनौती ये है कि जापानी इंसेफ्लाइटिस से लड़ने के लिए वैक्सीन तो है लेकिन फौरी तौर पर 17 हजार बच्चों को ये लगाना संभव नहीं होगा।

वहीं जेई नाम के टीके को बीमारी की चपेट में आ चुके बच्चों को लगाया नहीं जा सकता है। इस वैक्सीन का असर वैक्सीनेशन के सात दिनों के बाद होता है, यदि बच्चा जापानी बुखार की चपेट में है तो इसका कोई असर फौरी तौर पर नहीं होगा। ऐसे में अब स्वास्थ्य अमला सपोर्टिव ट्रीटमेंट बच्चों को बचाने की कोशिश कर रहा है। इसके अलावा बड़ी परेशानी यह है कि इस बीमारी से पीड़ित 250 लोगों की जांच करने पर सिर्फ एक पीड़ित में इसके होने की पुष्टि होती है।

मौत या ब्रेन डेड की हालत में पहुंच जाता है मरीज:
जापानी बुखार से शरीर में ग्लूकोज की मात्रा तेजी से घटती है। यह मात्रा इतनी कम हो जाती है कि मरीज को पैरालिसिस हो जाता है। इसके बाद ब्रेन डेड हो जाता है या उसके अंग काम करना बंद कर देते हैं। मरीज की मौत हो जाती है या फिर वो विकलांगता की कगार पर पहुंच जाता है।

इलाज में ग्लूकोज व इलेक्ट्रॉल का घोल:
जापानी बुखार की चपेट में आए बच्चों को इलाके में कोई विशेष दवा नहीं दी जा रही है। जिनमें लक्षण देखे जा रहे हैं उन्हें ग्लूकोज चढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा इलेक्ट्रॉल और ओआरएस का घोल पिलाया जा रहा है। इसके अलावा जिन बच्चों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है उन्हें ऑक्सीजन पर रखा जा रहा है।

Posts Carousel