• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   IAS संजीव कुमार सिन्हा बने BSSC के नए अध्यक्ष
    •   हंसी के नए डोज़ के लिए हो जाइए तैयार, यह कॉमेडियन जुड़ रहे हैं कपिल शर्मा के शो से
    •   ITR फाइल करना 1 अप्रैल से और भी सरल, जानें 5 बड़े बदलाव
    •   अब बचेंगे नहीं कश्मीर के पत्थरबाज, 'तीसरी आंख' से उन पर नजर रखेगी CRPF
    •   पत्रकारों के जींस-टीशर्ट पहनकर अदालत आने पर हाईकोर्ट खफा, पूछा- क्या यह बंबई की संस्कृति है
    •   खुरासान मॉडयूल को कारतूस सप्लाई में गन हाउस मालिक गिरफ्तार
    •   अब जब यूपी में भी बन गई 'सरकार', मुलायम ने भी कहा- 'जय मोदी, जय मोदी'!
    •   मुख्तार अंसारी ने कहा, मनोज सिन्हा करा सकते हैं मेरी हत्या
    •   सीएम आवास में ‌त्रिवेंद्र का गृह प्रवेश, लेक‌िन इस आवास का रहस्य नहीं जानते होंगे आप
    •   बीजेपी को टक्कर: RSS की तरह राष्ट्रीय कांग्रेस स्वयंसेवक संघ का गठन!
    •   नमाज और सूर्य नमस्कार में समानताएं, राजनीति दोनों को एक नहीं होने देती : योगी आदित्यनाथ
    •   फिर मुसीबत में फंसे अरविंद केजरीवाल, LG ने AAP से 30 दिन में 97 करोड़ वसूलने के आदेश दिए, पढ़ें
    •   GST को लोकसभा की मंजूरी, देश के टैक्स सिस्टम में आएंगे ये 10 बड़े बदलाव
    •   महोबा के पास दो हिस्सों में बंट गई महाकौशल एक्सप्रेस, 22 यात्री हुए घायल
    •   कोलकाता: हो चि मिन सरानी में आज सुबह होटेल में आग, 2 की मौत। फिलहाल आग नियंत्रण में।
    •   उत्तर प्रदेश: 54 सेंटर पर परीक्षा निरस्त हुई, 57 सेंटर पर परीक्षा रोकी गई।
    •   झारखंड: 72 घंटे का अल्टीमेटम खत्म होने पर रांची में कई बूचड़खाने बंद।
    •   नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने भारत के आर्मी चीफ को नेपाली सेना के जनरल का पद दिया।
    •   नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने भारत के आर्मी चीफ को नेपाली सेना के जनरल का पद दिया।
    •   होटल के सभी कमरों को खाली करवाया गया है

यहां इंसानों से भी ज्यादा गहने पहनते है कंकाल

img
यहां इंसानों से भी ज्यादा गहने पहनते है कंकाल Ghamansan Editor

इन संतों के कंकालों को पूरे यूरोप में बांटा गया

रोम: गहने पहनना हर इंसान को अच्छा लगता है, लेकिन एक ऐसी भी जगह है जहां इंसानो से ज्यादा कंकाल गहने पहने दिखाई देते हैं। जानिए क्यों ये कंकाल करोड़ों के गहनों से लदे रहते हैं।

साल 1578 के दौरान रोम की सड़क के नीचे कुछ रहस्यमयी कब्रों की खोज हुई थी। इसी दौरान इन कंकालों को कब्रों से बाहर निकाला गया था।400 Year Old Jewel Encrusted Skeletons कहानियों के मुताबिक ये कब्र उन लोगों की थीं, जो बहादुरी और ईसाई मान्यताओं के अटूट समर्थन की वजह से संत माने गए। इन कब्र और कंकालों को 'द कैटाकोम्ब संत' कहा गया।

400 Year Old Jewel Encrusted Skeletons इन संतों के कंकालों को पूरे यूरोप में बांटा गया। इन्हें खासकर उन चर्चों में भेजा गया, जहां सुधारवादी आंदोलन के दौरान पवित्र चीज़ों को नुकसान पहुंचाया या चोरी कर लिया गया था।

400 Year Old Jewel Encrusted Skeletons यूरोपियन चर्चों में इन कंकालों को कीमती जेवरात और कपड़ों से लादकर रखा गया है। इससे ये संदेश देने की कोशिश की गई कि पैसा और अमीरी मौत के बाद भी उनका इंतजार कर रही है।

400 Year Old Jewel Encrusted Skeletons पॉल कॉन्डोनरीज पुरातात्विक अवशेषों पर रिसर्च करने वाले एक शख़्स हैं, जिन्होंने पूरे यूरोप में घूमकर इनके बारे में जानकारी इकट्ठा की। उनके मुताबिक अभी ऐसे बहुत अधिक कंकाल संरक्षित हैं, जिन्हें गहनों और कपड़ों से सजाना बाकी रह गया है।