• ब्रेकिंग न्यूज़
    •   OBC के लिए मोदी सरकार का बड़ा फैसला, राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग की जगह बनेगा नया आयोग
    •   बस्तरः जगदलपुर इलाके में भगवती मिल में लगी आग। मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां, स्थिति नियंत्रण में।
    •   कर्नाटकः मांड्या की सारा को MBA के लिए नहीं मिला लोन। पीएम को लिखा पत्र तो मिली मदद।
    •   महाराष्ट्र: ठाणें में पुलिस से बचने के लिए गैरकानूनी शराब कारोबारियों ने कच्चा माल नदी में डाला,सैकड़ों मछलिया
    •   जम्मू-कश्मीरः बारामुला में सेना भर्ती में आए बड़ी संख्या में कश्मीरी।
    •   PM मोदी ने ट्वीट करके कहा है कि आतंकवाद से लड़ने में भारत यूके के साथ खड़ा है।
    •   प्रधानमंत्री मोदी ने लंदन आतंकी हमले पर दुख जताया है। उन्होंने कहा, 'पीड़ितों के परिवार के साथ हमारी दुआएं हैं
    •   आज सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई होगी।
    •   लंदन के लोग हमेशा की तरह बस और ट्रेनों में सफर करेंगे- टरीजा मे
    •   लंदन को कुछ नहीं होगा। ये महान शहर रोज़ की तरह फिर जागेगा- टरीजा मे
    •   हम लोग ऐसे हमलों से डरने वाले नहीं हैं: टरीजा मे
    •   लंदन अटैक: पुलिस ने अब तक केवल एक हमलावर के होने की बात कही।
    •   लंदन अटैक: पूरे शहर में अतिरिक्त सेना और पुलिसकर्मी (बिना हथियार के) तैनात किए गए।
    •   लंदन के लोग आतंकवाद से कभी नहीं दबेंगे- मेयर, लंदन
    •   लंदन अटैक: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए- 020 8629 5950 और 020 7632 3035
    •   लंदन अटैक: विदेश मंंत्री सुषमा स्वराज ने कहा, लंदन स्थित इंडियन हाई कमिशन सभी भारतीयों की मदद करेगा।
    •   प्रधानमंत्री टरीजा मे कुछ ही घंटों में आपातकाल मीटिंग करेंगी- मीडिया रिपोर्ट
    •   लंदन अटैक: हमलावर और एक पुलिस अधिकारी समेत चार लोगों की मौत। 20 लोग घायल- पुलिस
    •   सुनील ग्रोवर के बाद 'चंदू चायवाले' और 'नानी' ने भी कपिल शर्मा के शो का बायकॉट किया
    •   सबसे ज़्यादा टैक्स देने वाले एक्टर बने सलमान ख़ान, शाह रुख़, अमिताभ टॉप 10 की लिस्ट से गायब

ऐसे दें बच्चों की शिक्षा पर ध्यान

img
ऐसे दें बच्चों की शिक्षा पर ध्यान Ghamansan Editor

दूसरों की बातें ध्यान से सुनने और बोलकर अपनी बात पेश करने के लिए प्रोत्साहित करें

जब आप अपने बच्चे को स्कूल में दाखिल करवाते हैं, तो आपका मुख्य उद्देश्य यह होता है की आपका बच्चा हर वो ज्ञान प्राप्त करे जो उसके आगे बढ़ने और सफल जीवन के लिए जरूरी है और जो उसमें आत्मविश्वास पैदा करे। 5 से12 वर्ष के बच्चों के लिए स्कूल में कई शिक्षण गतिविधियाँ होतीं हैं। इन सभी गतिविधियों का उद्देश्य आपके बच्चे की शैक्षिक कौशलता और व्यक्तित्व विकास  कराना होता  है। शिक्षा, अकादमिक सफलता के लिए महत्वपूर्ण है लेकिन इतना ध्यान रखना चाहिए कि स्कूली शिक्षा बच्‍चे को हर तरह से योग्य एवं परिपूर्ण बनाने वाली होनी चाहिए। बच्चों पर कोई भी गतिविधि या काम लादना नहीं चाहिए बल्कि उनसे ये सब काम, बिना कोई दवाब दिए, आराम से करवाना चाहिए।


गणित की समस्याएं हल करना, किताबें पढ़ना, लिखना, बोलना इत्यादि बच्चों के लिए कुछ महत्वपूर्ण शिक्षण गतिविधियां होतीं हैं जिनमें उन्हें कुशलता प्राप्त करनी होती है। अगर आपका बच्चा एक अच्छा श्रोता है यानि की दूसरों की बातें ध्यान से सुनता है एवं अपने विचार या अपनी बात दूसरों के सामने बोलकर पेश कर सकता है तो स्कूल में वह सफलता पा सकता है।  इसलिए उसे दूसरों की बातें ध्यान से सुनने और बोलकर अपनी बात पेश करने के लिए प्रोत्साहित करें। उसे कोई भी बात रटने के लिए प्रोत्साहित न करें। स्कूल भेजने का आपका मकसद ये है की आपका बच्चा सभी विषयों को अच्छी तरह से समझ कर ज्ञान प्राप्त करे जो उसके भविष्य में काम आए।


आप अपने बच्चों में हर विषय के प्रति रुचि जगाएं। जिन विषयों में उसकी जितनी ज्यादा रुचि होगी, उसे पढ़ने और समझने में उसका उतना हीं मन लगेगा। बच्चे के माता-पिता या अभिभावक होने के नाते आप खुद ऐसी रणनीति बनाएं जिससे कि आपके बच्चों में उन विषयों को पढ़ने और याद करने की रुचि उत्पन्न हो। आप अपने बच्चे को सिर्फ किताबी ज्ञान या अक्षरों का ज्ञान न दें बल्कि उसे पढ़ाते हुए कुछ ऐसा ज्ञान दें जिससे उस विषय में उसकी रुचि बरक़रार रहे  एवं जो उसे आगे जाकर फायदा पहुंचाए।

Posts Carousel