प्रधानमंत्री मोदी की वजह से गूंजी किलकारी

0
78

प्रधानमंत्री मोदी रांची में आयुष्यमान योजना की शुरुआत कर रहे थे। वहीं दूसरी और नन्हीं आयुषी इस दुनिया में अपने नन्हें कदम रखने वाली थी। दरअसल यहाँ पूनम को सदर अस्पताल में भर्ती किया गया था। पूनम के परिवार वालों को यह चिंता भी सता रही थी कि अगर कहीं स्थिति बिगड़ी तो उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ेगा जिसका खर्च वहन करना उनके लिए मुश्किल होगा। मगर अच्छी बात यह रही कि सदर अस्पताल में ही ऑपरेशन से पूनम ने बिटिया को जन्म दिया। निजी अस्पताल जाने की नौबत ही नहीं आई। पूनम की बिटिया भाग्यशाली रही कि आयुष्मान भारत योजना की पहली लाभार्थी बनी

https://www.jagranimages.com/images/29_09_2018-aayushi_18478031_11032498.jpg
via

इस योजना से पूनम बेहद खुश हैं और उनका कहना है, ‘मैंने सोचा भी नहीं था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हम गरीबों के लिए इतनी बड़ी योजना लाएंगे। मोदीजी ने वाकई 56 इंच का सीना दिखाया है।’ पति सिकंदर महतो के अनुसार पूनम को जब 23 सिंतबर को प्रसव हेतु भर्ती कराया तो चिंता सता रही थी। मुझे बाद में पता चला कि इस योजना के तहत पाच लाख रुपये तक का इलाज खर्च सरकार वहन करेगी। योजना का लाभ उठाने के लिए उनसे राशन कार्ड व आधार कार्ड का फोटो कापी जमा ले लिया गया था। उस समय तक उसे इस योजना की जानकारी नहीं थी। बच्ची के जन्म के बाद उसे गोल्डन कार्ड दिया गया। सिकंदर कहते हैं कि यह गरीबों के लिए वरदान है।

https://da27k6hnkwdnx.cloudfront.net/gall_content/2018/2/2018_2$largeimg03_Feb_2018_053156404.jpg
via

शनिवार को टाका कटने के बाद रविवार को छुंट्टी मिल जाएगी। देशभर की पहचान बन चुकी आयुषी के पिता सिकंदर महतो कहते हैं कि आयुषी के पहले से पाच दादा हैं, अब छह दादा हो गए। छठे का नाम- नरेंद्र मोदी है। कहते हैं कि नरेंद्र मोदी अब उनके परिवार से सीधे जुड़ गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here