नई दिल्ली : पाकिस्तान की विशेष अदालत ने पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ की गिरफ्तारी के साथ ही उनकी संपत्तियां जब्त करने का आदेश दिया है। अदालत ने मुशर्रफ के खिलाफ 2007 में देश पर आपातकाल थोपने के मामले में यह आदेश दिया है।

जबकि इस मामले में 74 वर्षीय मुशर्रफ पर मार्च, 2014 में आरोप तय हुए थे। अपने शासन के दौरान मुशर्रफ ने सुप्रीम कोर्ट के कई जजों को घर में नजरबंद करा दिया था। साथ ही सौ से ज्यादा जजों को बर्खास्त कर दिया था। पेशावर हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश याह्या आफरीदी की अध्यक्षता में तीन जजों की पीठ ने गुरुवार को यह आदेश दिया। इस मामले में कार्रवाई से बचने के लिए मुशर्रफ मार्च, 2016 में देश छोड़कर दुबई भाग गए थे। इसके बाद मई में कोर्ट ने उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया था।

LEAVE A REPLY