भोपाल : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नंद कुमार चौहान ने अपना पद छोड़ने के संकेत दिए है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी पुष्टि करते कहा, नंदकुमार अपने संसदीय क्षेत्र में काम करना चाहते हैं. मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को रात 10 बजे सीएम हाउस बुलाया, सबको उपस्थित रहने के निर्देश दिए है.

इससे पहले आज भोपाल में एक कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बुधवार सुबह तक भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा हो जाएगी. हालांकि संभावना है कि मंगलवार देर रात तक नाम सामने आ सकता है. शिवराज के बयान के बाद एक बार फिर से यह सवाल उठने लगे है कि मध्यप्रदेश में भाजपा का नया अध्यक्ष कौन होगा. इसको लेकर कई दावेदार सामने आए हैं.Related imageनरोत्तम मिश्रा : प्रदेश सरकार के मंत्री नरोत्तम मिश्रा को प्रमुख दावेदार माना जा रहा है. इन्हें शिवराज का संकट मोचक भी कहा जाता है. मंदसौर गोलीकांड के समय भी उग्र हो चुके आंदोलन को शांत करने में मिश्रा ने प्रमुख भूमिका निभाई थी. मिश्रा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के विश्वस्तों में गिने जाते हैं.
Image result for narendra singh tomarनरेंद्र सिंह तोमर : नरेन्द्र मोदी सरकार में मंत्री और पूर्व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर को एक बार फिर से मप्र भाजपा अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी जा सकती है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी तोमर के नाम से सहमत है. तोमर इससे पहले 2008 और 2013 के राज्य विधानसभा चुनावों के प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए शिवराज के साथ मिलकर पार्टी की सत्ता में वापसी करा चुके हैं, ऐसे में उनकी दावेदारी सबसे मजबूत है. हालांकि प्रधानमंत्री मोदी इन्हें छोड़ेंगे या नहीं यह कहना मुश्किल है.
Image result for kailash vijayvargiyaकैलाश विजयवर्गीय : कैलाश विजयवर्गीय मध्य प्रदेश की राजनीति में एक बड़ा नाम है. वह पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और अमित शाह के विश्वस्त नेताओं में से एक है. हालांकि कैलाश, शिवराज से प्रतिद्वंद्विता रखते है, जो उनको प्रदेश अध्यक्ष न बनाने का एक कारण हो सकता है.
Related imageभूपेंद्र सिंह : मप्र भाजपा अध्यक्ष पद के लिए राज्य के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह का नाम भी सामने आ रहा है. हालांकि मंदसौर गोलीकांड के कारण उनकी छवि जरुर ख़राब हुई है. राज्य की कानून-व्यवस्था को भी विपक्ष लगातार मुद्दा बना रहा है.