घमासान व्यंग्य

घमासान व्यंग्य

कहते हैं ऐतिहासिक तथ्यों पर फिल्म बनाना बड़ा जोखिम का काम होता है, क्योंकि इतिहास के पात्रों को जीवंत करने में भारी रिसर्च करना होता है, बिना इसके आप उपहास का पात्र बन सकते हो। इसी कारण से साहित्यकार...
नई दिल्ली : आज की संध्या दिनांक 14/2/18 ,  का मीठी मालवी बोली का मीठा  सहज हास्य से भरपूर नाटक " जक नी  लेने दे फजीता "  भोजराज मंदिर शनि गली में अदा नाट्य समूह द्वारा श्री रजनीश दवे...
देश की संस्कृति को बचाने का अपना एक अलग ही सुख और संतोष है। देश का हर नागरिक और राजनीतिक पार्टियां इस सुख को बगैर कोई मोल दिए प्राप्त कर सकती हैं। बस जरूरत इस बात की है कि...