जानिए लोहड़ी का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

0
17

नई दिल्ली। आज लोहड़ी का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है ये पंजाब हरियाणा में मुख्य रूप से मनाया जाता है। ये मकर संक्रांति के एक दिन पूर्व रात्रि में मनाया जाता है। लोहड़ी तीन अक्षरों से मिलकर बना है ल से लकड़ी, ओह से गोहा याने जलते हुए उपले व ड़ी से रेवड़ी।

लोहड़ी को लाल लाही, लोहिता व खिचड़वार नाम से भी जाना जाता है। सिन्धी समाज भी इसे लाल लाही पर्व के रूप में मनाया जाता है। लोहड़ी के दिन अपनी विवाहिता पुत्रियों को घर से वस्त्र, मिठाई, रेवड़ी, फलादि भेजते हैं।

Image result for लोहड़ीपूजन विधि: घर की पश्चिम दिशा में पश्चिममुखी होकर काले कपड़े पर महादेवी का चित्र स्थापित कर विधिवत पूजन करें। सरसों के तेल का दीप करें, लोहबान से धूप करें, सिंदूर चढ़ाएं, बिल्वपत्र चढ़ाएं रेवड़ियों का भोग लगाएं तथा इस विशेष मंत्र का 1 माला जाप करें। जाप के बाद सूखे नारियल के गोले में कर्पूर डालकर अग्नि प्रज्वलित कर रेवड़ियां, मूंगफली व मक्की अग्नि में डालकर होम करें तथा 7 बार अग्नि की परिक्रमा करें। पूजन के बाद भोग प्रसाद रूप में वितरित करें।

Image result for लोहड़ी

पूजन मुहूर्त: रात 20:05 से रात 21:05 तक।
पूजन मंत्र: ॐ सती शाम्भवी शिवप्रिये स्वाहा॥