PAYTM का पेमेंट बैंक 23 मई से होगा शुरु, जानें आपके वॉलेट के पैसे का क्या होगा

0
17

नई दिल्ली:  देश की सबसे बड़ी डिजिटल वॉलिट कंपनी पेटीएम को पेमेंट बैंक शुरू करने का लाइसेंस मिल गया है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड की शुरुआत 23 मई, 2017 से होगी। रिजर्व बैंक के निर्देशों के मुताबिक कंपनी अपने वॉलिट बिजनस को पेमेंट्स बैंक लाइसेंस के तहत पेमेंट बैंक को ट्रांसफर करेगी।

जानिए 23 मई से पेटीएम के यूजर्स के लिए क्या बदलेगा?
इसमें कहा गया है कि 23 मई के बाद पेटीएम वॉलेट का कारोबार पीपीबीएल में चला जायेगा. यदि कोई ग्राहक ऐसा नहीं चाहता है तो उन्हें पेटीएम को जानकारी देनी होगी. सूचना मिलने पर पेटीएम उसके वॉलेट में बची पैसे को संबंधित ग्राहक के बैंक खाते में हस्तांतरित कर देगी. इस तरह की सूचना 23 मई से पहले देनी होगी. पिछले 6 महीने के दौरान वॉलेट में यदि कोई एक्टिविटी नहीं हुई है तो उस सूरत में पीपीबल में पैसे का ट्रांसफर सिर्फ ग्राहक की विशेष अनुमति के बाद ही होगा. पेटीएम का पेमेंट बैंक व्यक्तियों और छोटे कारोबारियों से प्रति खाता 1 लाख रुपये तक के डिपॉजिट स्वीकार कर सकता है. इससे पहले पेटीएम का पेमेंट बैंक पिछले साल दीवाली के आसपास शुरू होने की चर्चा थी लेकिन अब ये आखिरकार शुरू होने जा रहा है.

पेटीएम वॉलेट में रखे पैसे का क्या होगा?
पेटीएम वॉलेट में रखा पैसा पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड में ट्रांसफर कर दिया जाएगा क्योंकि वॉलेट बिजनेस अब एक नई कंपनी का हिस्सा होगा. इसके लिए आपको कुछ भी करना नहीं होगा और ये प्रोसेस ऑटोमेटिक हो जाएगा. अगर पेटीएम बैंक के ग्राहकों को बैंक अकाउंट नंबर, चेकबुक और डेबिट कार्ड चाहिए तो आपको कंपनी के नए पेमेंट बैंक के साथ खाता खोलना पड़ेगा. अगर ऐसा नहीं किया आपका पेटीएम वॉलेट पहले की ही तरह काम करता रहेगा. हालांकि आपके लिए कंपनी एक अलग से अकाउंट खोलने का ऑप्शन देगी और अगर आप पेमेंट बैंक में नया अकाउंट खोलेंगे तो उस पर इंटरेस्ट भी मिलेगा.