हिंदी से जुड़े ये फैक्ट, जो नहीं जानते होंगे आप…

0
56

नई दिल्ली : आज यानी 14 सितंबर को पूरे भारत में ‘हिंदी दिवस’ मनाया जा रहा है। 14 स‍ितंबर इसल‍िए, क्‍योंक‍ि 1949 में इसी द‍िन संव‍िधान सभा ने ह‍िंंदी को भारत की आध‍िकार‍िक भाषा का दर्जा द‍िया। यानी इसे राजभाषा बनाया गया। आइयें इसी मौके पर आज हम आपको बताते है हिंदी से जुड़े ये फैक्ट, जो आपको नहीं पता होंगे…

1- हिन्दी शब्द फारसी शब्द ‘हिन्द’ से आया है, जिसका मतलब ‘सिंधु नदी की भूमि’ है। 11वीं सदी में जब तुर्कों ने पंजाब और गंगा के मैदानी इलाकों पर हमला किया, तब हिन्द शब्द का इस्तेमाल यहां रहने वाले लोगों के लिए किया गया था।

2- साल 1881 में बिहार पहला राज्य बना, जिसने हिन्दी को आधिकारिक भाषा के रूप में चुना था।

3- भारतीय संविधान ने 14 सितंबर 1949 में हिन्दी को राजभाषा का दर्जा मिला था। दिया। इसलिए हर साल हम 14 सितंबर को हिन्दी दिवस के रूप में मनाते हैं।

4- 2015 के आंकड़ों के अनुसार हिंदी भाषा दुनिया में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा बन चुकी है।

5- विश्वय हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है।  इसकी शुरुआत महाराष्ट्रम के नागपुर से 1975 में हुई थी। वर्ष 2006 में इसे आधिकारिक दर्जा और वैश्विक पहचान मिली।

6- भारत में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा हिंदी है। हमारे देश के 77% लोग हिंदी लिखते, पढ़ते, बोलते और समझते हैं। हिंदी उनके कामकाज का भी हिस्साद है।

7- हिंदी का नमस्तेझ शब्दब ऐसा शब्द  माना जाता है जिसे सर्वाधिक बार बोला जाता है।  एक अनुमान के अनुसार हर पांच में से एक व्यदक्ति हिंदी में इंटरनेट का उपयोग करता है।

8- हिन्दी भाषा सीखने के लिहाज से अन्य भाषाओं की तुलना में आसान और दिलचस्प है। इसमें शब्दों का वही उच्चारण होता है, जो लिखा जाता है।

9- हिन्दी भारत की उन सात भाषाओं में से एक है, जिसका इस्तेमाल वेब एड्रेस बनाने में भी किया जाता है।

10- चीनी न्यूज एजेंसी सिन्हुआ की एक रिपोर्ट के अनुसार केवल 70 प्रतिशत चीनी ही मंदारिन बोलते हैं। जबकि भारत में हिंदी बोलने वालों की संख्या करीब 78 प्रतिशत दुनिया में 64 करोड़ लोगों की मातृभाषा हिंदी है। जबकि 20 करोड़ लोगों की दूसरी भाषा, और 44 करोड़ लोगों की तीसरी, चौथी या पांचवीं भाषा हिंदी है।

11- हिन्दी में ‘हरि’ एक ऐसा शब्द है, जिसके दर्जन भर से भी अधिक अर्थ हैं:- जैसे यमराज, पवन, इन्द्र, चन्द्र, सूर्य, विष्णु, सिंह, किरण, घोड़ा, तोता, सांप, वानर और मेंढक, वायु, उपेन्द्र आदि।