तो इसलिए 14 सितंबर को ही मनाया जाता है हिंदी दिवस

0
27

नई दिल्ली। 14 सितंबर पूरे देश में हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते है कि आज के दिन ही हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है। तो आईए आपको बताते है कि इसके बारे में 1918 में महात्मा गांधी ने हिंदी साहित्य सम्मेलन में हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था। 1949 में जाकर संविधान सभा ने निर्णय लिया कि हिंदी ही भारत की राजभाषा होगी।

जिसके बाद हर जगह हिंदी भाषा को फैलाने के बाद 1953 से 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। संव‍िधान के अनुच्‍छेद 343 के तहत देवनागरी ल‍िप‍ि में ल‍िखी जाने वाली ह‍िंंदी को सरकारी कामकाज की भाषा (अंग्रेजी के अत‍िर‍िक्‍त) के रूप में मान्‍यता दी गई। नई द‍िल्‍ली के व‍िज्ञान भवन में राष्‍ट्रपति के द्वारा ह‍िंंदी में उल्‍लेखनीय योगदान देने वाली व‍िभूतियों का सम्‍मान भी क‍िया जाता है।